शेरू की मामी की सेक्स कहानी

maami ki sex kahani मेरा नाम शेरू है. मैं बीस साल का एक जवान लड़का हूं. मैं अपने मामाजी के यहां रहता हूं. पिछले तीन महने से मैं अपनी मामी कमल और उसकी सहेली रीना के साथ सम्भोग कर रहा हूं. दोनों ३५ साल की चुदैल औरतें हैं और मेरे ९ इंच के लंड पर फ़िदा हैं. जब भी मौका मिलता है, दोनों मुझसे मरवाने आ जातीं हैं. एक दिन मुझे रीना की गांड मारते हुए देख कर मेरी मामी ने बड़े आश्चर्य से पूछा कि मेरा इतना बड़ा लंड वह कैसे अपनी संकरी गांड में लेती है. मेरी मामी ने मेरा ९ इंच का लवड़ा रीना की गांड में जाते हुए देखा. रीना बोली कि दर्द तो होता है पर मस्त मोटे लंड से गांड मराने में मजा भी बहुत आता है. कमल मामी ने भी कई बार गांड मराई थी पर छोटे लंडों से. मेरे मामा भी हमेशा उसकी गांड मारते थे पर अपने ५ इंच के बचकाने लंड से.

रीना बोली “कमल तू घबरा मत देख कितनी आसानी से शेरु का हलब्बी लंड मेरी गांड में जा रहा है. सिर्फ़ थूक लगा कर डाला है इसने. तू तो पहले भी गांड मरवा चुकी है फ़िर क्यों डरती है?”
कमल ने जवाब दिया “हाय तू इतना मोटा लंड कैसे खा रही है अपनी कसी गांड में, मेरी तो देख कर ही फटी जा रही है”.
दोनों सहेलियां बातें कर रही थीं और मैं रीना की गांड में अपना ९ इंच का लंड जोर जोर से पेल रहा था. पूरा लंड पिस्टन की तरह उसकी गांड में अंदर बाहर हो रहा था. रीना सिसक सिसक कर कह रही थी “ऒह, आह, मर गयी, गांड फट गयी मेरी, धीरे धीरे डालो राजा”.
मेरी मामी हमारे पास बैठ कर अपनी सहेली की टाइट गांड की चुदाई देख रही थी. एक बार वह मुझसे चुद चुकी थी. पर रीना को गांड मराते देख कर वह फिर से गरम होने लगी और झांटें शेव की हुई अपनी चिकनी चूत से खेलने लगी. वह बुरी तरह से अपनी बुर में उंगली अन्दर बाहर करते हुए मुठ्ठ मारने लगी. मैं उसके पपीते जैसे बड़े बड़े स्तनों से खेल रहा था.
मैं बोला “मामी जब तुम गांड चुदवा चुकी हो तब क्यों डर रही हो, रीना भी पहले डरती थी लेकिन अब देखो कितने प्यार से चुदवा रही है. आज तुम मुझे भी अपनी मस्त गांड का मजा दे दो, बहुत प्यार से डालूंगा लौड़ा, तेल या क्रीम लगा कर चोदूंगा, आराम से चला जायेगा, तुम्हारी गांड तो मामाजी का लंड खा ही चुकी है, थोड़ा सा ही मेरा और मोटा और लंबा है”.
कमल घबराई “ना बाबा ना, तुम्हारा गधे जैसा लंड मेरी नाज़ुक गांड फाड़ डालेगा, मेरी तो चूत ही फट कर रह जाती है, गांड के तो चिथड़े उड़ जायेंगे, माफ़ करो मुझे, रीना से ही मजा ले लो खूब.”
रीना जो अपनी गांड की मांसपेशियों को सिकोड़ सिकोड़ कर मेरे लंड को मजा ले ले कर दुह रही थी, बोली “शेरू, तुम आज कमल की गांड जरूर मारना, बहुत बनती है साली, अपना पूरा लौड़ा डाल के इसकी फाड़ देना, अगर ना गांड चुदवाये तो आज इसकी चूत भी मत चोदना, तुम्हे मेरी कसम”.
मैने रीना की गांड में से लंड निकाला और मामी को बोला “देख कमल रानी, कितनी आसानी से रीना की गांड में मैं अपना पूरा लंड पेलता हूं”.
मैंने रीना के दोनों मस्त चूतड़ पकड़ कर उन्हें अलग अलग किया और उसका गुलाबी छेद मामी को दिखाया. कमल मामी उसे देख कर मस्ती में अपनी बुर रगड़ने लगी. फ़िर मैंने अपना बुरी तरह सूजा हुआ सुपाड़ा गांड के छेद पर रखा. रीना सांस रोक कर मेरे धक्के का इन्तजार कर रही थी.
एक धक्के में मैंने आधा लंड रीना की कसी हुई गांड में उतार दिया और फ़िर दूसरे जोरदार धक्के से मेरा पूरा फ़नफ़नाया लंड उसके चूतड़ों के बीच गड़ गया. मेरा वृक्क उसके चूतड़ों को छू रहा था. रीना सिर्फ़ प्यार से हुमक कर बोली “हाय, धीरे से, राजा”.
मैं मामी से बोला “देखा तुमने, कितनी आसानी से पूरा लंड चला गया रीना की गांड मैं”
मामी चकरा गई “सचमुच, ताज्जुब है, लगता है, रीना तू शेरू से पहले भी गांड मरवा चुकी है, तभी तो तेरी गांड में आसानी से इसका लंड चला गया, बोल मैं ठीक कह रही हूं कि नहीं”
रीना मान गई “अब तुझसे क्या छुपाना, मैं तो शेरु से १० – १२ बार गांड चुदवा चुकी हूं अपने घर में, पहली २ – ३ बार तो जरूर दर्द हुआ था लेकिन अब तो मजा आता है, तू भी आज चुदवा ले, शेरु का दिल रख ले मेरी जान.”
“अच्छा तू मुझ से छुप कर चुदती रही मेरे भांजे से और शेरु, तुमने भी मुझसे छुपाया, बहुत हरामी हो साले गांडू, क्या तुझे रीना की चूत और गांड ज़्यादा पसन्द है, बोलो?” कमल मामी चिढ़ कर बोली.
मैंने उसे समझाते हुए उसका चुम्मा लिया और कहा “नहीं मेरी कमल मामी डार्लिंग, आप तो मेरा पहला प्यार हो, आप की ही वजह से मुझे रीना की चुदाई का मौका मिला, जो बात तुम्हारी चूत में है वोह किसी में नहीं, लेकिन क्यों कि रीना की भी मैं बार बार चोद रहा हूं इस लिये इसकी भी चूत और गांड से मुझे प्यार है”.
रीना नाराज़ होकर अपनी गांड में से मेरा लंड निकालने की कोशिश करने लगी. “अच्छा साले गांड मेरी चोद रहे हो और तारीफ़ कमल की कर रहे हो, निकालो मेरी गांड से लंड और कमल की ही चोदो, मैं अब कभी भी अपनी गांड का मजा तुम्हें नहीं दूंगी”.
मैंने अपना लंड उसकी गांड में घुसाये रखा और कहा “तुम दोनों से मुझे बराबर प्यार है, लेकिन क्योंकि कमल मेरे मामीजी है. इस लिये उनका हक़ ज़्यादा है, बोलो ठीक है? बस अब रीना मेरी जान प्यार से गांड का मजा दे दो, कुछ ही देर में मैं झड़ जाऊंगा”
रीना मेरे साथ साथ झड़ने को जोर जोर से मुट्ठ मारने लगी. कमल मामी ने कहा “शेरु, तुम अपना लौड़ा गांड से निकाल कर रीना की चूत में डाल दो तो उसकी भी आग बुझ जायेगी, देखो बिचारी खुद ही उंगली डाल कर कर रही है” कहते कहते कमल भी खुद अपनी बुर से खेल रही थी और उंगली अन्दर बाहर कर रही थी. उसकी बुर से पानी बह रहा था.
मैं मामी के उरोजों के निपलों से खेल रहा था जो खड़े होकर एकदम कड़े हो गये थे. मैं साथ साथ रीना की गांड में भी अपना लंड अन्दर बाहर कर रहा था और वह उसे अपने गुदाद्वार से जकड़ कर पकड़े हुई थी.
मैंने कमल से कहा “नहीं, आज तो मैं अपना माल इसकी गांड में ही निकालूंगा, चूत को एक बार फिर चोदूंगा, आज रीना ने मुझे बहुत मजा दिया है, आज मैं इसे खुश कर दूंगा, बहुत प्यारी है इसकी कसी गांड, मेरा लंड मस्त हो गया है, कमल मामी आज तुम भी गांड चुदवा लो, बहुत प्यार से डालूंगा अपना लंड, तुम्हें कुछ भी नहीं होगा, रीना तुम्हें मदद करेगी”
रीना की चूत अब बुरी तरह से चू रही थी, रस अब टपकने लगा था और अपने चूतड़ अब खुद ही मेरे लंड पर पटक पटक कर वह गांड मरा रही थी. चुदासी से मादक सिसकारियां भरती हुई वह बोली “हां कमल, तुम डरो नहीं, मैं तुम्हारी पूरी मदद करूंगी, तुम्हारी गांड को तैयार करूंगी, लंड पर तेल लगाऊंगी, तुम्हारी गांड को चिकना करूंगी, शेरु तुम्हारी गांड को प्यार करेगा, उसे चाटेगा, चूमेगा, चूसेगा, अन्दर जीभ डालेगा, तुम्हारी गांड खुद लंड मांगने लगेगी”
कमल भी अब तक गांड मराने के लिये आतुर हो चुकी थी. “ठीक है, अगर तुम लोग इतना ही चाहते हो कि मेरी गांड फट जाये, शेरु का मोटा लंड खा कर, तो मैं भी तैयार हूं, शेरु को हर ढंग से खुश रखना है, बोलो मेरे चोदू भांजे, ठीक है ना?” कमल ने मुझे चूमते हुए कहा.
मैं बोला “थैंक्स मेरी प्यारी मामी”.
रीना की गांड में जोर जोर से चलते हुए मेरे लंड को मामी ने जड़ पर पकड़ा और जबरदस्ती खींच कर रीना की मस्त हुई गांड के बाहर निकाल लिया. मैं बस झड़ने ही वाला था इसलिये रीना गुस्से से चिल्लायी “कमल, साली, लंड क्यों निकाल लिया, क्या तू अपनी गांड मे लेगी, सच बहुत मज़ा आ रहा है, तू बाद में चुदा लेना, मेरी गांड की प्यास बुझ जाने दे, शेरु, हाय डालो ना, मेरी चूत तो झड़ चुकी है”
कमल मेरा तन्नाया लंड रीना की गांड में घुसता देखने के लिये बेचैन थी. उसने अपने हाथों से उसके चूतड़ कस कर फैलाये जिससे उसका गुदाद्वार पूरा खुल गया. मेरा लंड पकड़कर सुपाड़ा रीना के गांड के छेद पर रखा और बोली “चल शेरु, एक ही धक्के में पूरा डाल दो इसकी गांड में, बड़ी चुदक्कड़ बन रही है साली, फाड़ दो इसकी गांड का छेद मादरचोद की गांड मार मार कर”.
मैंने उसका कहा मान कर एक जोरदार झटके में अपना पूरा ९ इंच का लौड़ा रीना की कसी हुई गांड में उतार दिया. रीना चिल्ला उठी “मर गयी रे, कमल तुमने मेरी गांड फड़वा डी, मैं भी तुम्हारी आज फड़वा कर रहूंगी” मैं इतना अधीर हो गया था कि दस बारा धक्कों में झड़ गया और मेरा वीर्य रीना की गांड मे स्खलित हो गया. उसकी गांड मेरे लंड को मानों गाय के थनों जैसा दुह रही थी.
पूरा झड़ने के बाद मैनें रीना की गांड में से लंड बाहर खींच लिया. उस टाइट गांड में से निकलते हुए लंड ने पुक्क की आवाज की. मामी अपनी सहेली की गांड की चुदाई देख कर एकदम कामातुर हो गयी थी. उसने मेरा झड़ा हुआ लंड हाथ में लेकर मुठियाना चालू कर दिया जिससे वह जल्दी खड़ा हो जाये. रीना आंखें बन्द कर के अपनी चुदाई और गांड मरवाई का आनन्द लेती हुई आराम से पड़ी हुई थी. उसके दोनों गुप्तांग तृप्त हो गये थे.
मेरी मामी की चूत बुरी तरह से गीली हो गयी थी और चूचुक तन्ना कर खड़े हो गये थे. वह एक जबरदस्त चुदाई के लिये मरी जा रही थी और मुझसे बोली “शेरु तूने तो आज रीना की गांड फाड़ कर रख दी, तुम लोगों की चुदाई देख कर मेरा भी मन कर रहा है जल्दी से लंड खड़ा कर के मेरी चूत की आग बुझा दो मेरे राजा”
मेरा लंड अभी खड़ा नहीं हुआ था इसलिये मैं बोला “देखो रानी, अभी तो मैंने रीना की गांड मारी है, लंड बिलकुल मुरझा गया है, कुछ रेस्ट करने के बाद ही चोद सकूंगा, तुम ऐसा करो, किचन से हम लोगों के लिये एक एक ग्लास दूध लाओ, फिर कुछ दम आयेगा”.
कमल मामी बोली, “ऒके, जैसी तुम्हारी मर्ज़ी”. वह बिस्तर से उतरकर जब किचन में जा रही थी तो पीछे से उसके मस्त भारी भरकम तरबूज से नितंब देखकर मेरे मुंह में पानी भर आया. वह चलते चलते अपने चूतड़ जान बूझ कर मटका रही थी. मैं अब उसकी गांड मारने के लिये पूरी तरह से आतुर था.
यहां रीना भी उठ बैठी थी और पूछने लगी “अरे यार तुमने आज मेरी गांड फाड़ कर रख दी, वह साली, तुम्हारी मामी कहां गयी, उसकी गांड आज तुम जरूर फाड़ना, साली, भोसड़ीवाली ने मेरी गांड में तुम्हारा लंड पिलवाया, मैं भी उसकी गांड चुदवाने में तुम्हारी मदद करूंगी, तुम पहले गांड ही चोदना”.
रीना मेरे लंड को प्यार से सहलाने लगी और अब वह धीरे धीरे खड़ा होने लगा तो उसने झुककर मेरे लंड को बड़े लाड़ से चूम लिया.
मैने रीना के मांसल स्तनों को चूमते हुए कहा “रीना मेरी जान आज तुमने बहुत मज़ा दिया, थैंक्स, मैं एक बार तुम्हारी चूत फिर चोदूंगा”
कमल तब तक तीन गिलास दूध लेकर वापस आ गयी थी “हाय रीना तुम जाग गयी, अब मेरी चांस है, मैं अपने शेरु का लंड तैयार करूंगी, लो तुम लोग दूध पीलो”
रीना ने बड़ी शरारत से उससे पूछा “कमला क्या तुमने शेरु को कभी अपना दूध पिलाया है?”. कमला बोली “नहीं तो, मेरी चूची से दूध कहां निकलता है, क्या तूने पिलाया है अपना दूध साली, बोल?”
रीना अपना बड़ा मम्मा एक हाथ में पकड़कर बोली “ला मुझे दूध का गिलास दे, मैं अपनी चूची इस में डुबो कर शेरू को पिलाऊंगी, बिलकुल ऐसा लगेगा कि चूची से ही दूध निकल रहा है”
कमला बोली “वाह तेरे दिमाग में भी खूब आइडिया रहते हैं, बड़ी चुदक्कड़ है तू, चुदाई के सारे गुण जानती है तू”.
फ़िर रीना ने कमल मामी से दूध का गिलास लिया और अपनी चूची उसमें डुबो दी. आधी चूची गिलास में समा गयी. दो मिनट रखने के बाद जब स्तन निकाला तो वह दूध में डूबा हुआ
रीना बोली “शेरू अब तुम मेरी चूची चूसो और चाटो, तुम्हे बहुत मज़ा आयेगा”. मुझे भी उसकी चूची चाटने का ख्याल मस्त लगा. मैंने पहले रीना की चूची चाटी और फ़िर उसके निपल को चूस कर सारा दूध पी गया. उसका निपल भी एक छोटे लवड़े जैसा खड़ा हो गया था.
कमल इस कामकर्म को देख कर खुश हो रही थी. मैं बोला “मज़ा आगया, तुम्हारी चूची चूस कर, ऐसा लग रहा था कि जैसे इसी से दूध निकल रहा है”.
इस बीच कमल मामी ने मेरा लंड चाटना शुरू कर दिया. वह आधा खड़ा था और रीना मेरे वृक्क को चाट चाट कर लंड और खड़ा कर रही थी. मैं रीना की बड़ी बड़ी चूचियों से खेल रहा था.
रीना बोली “कमल, तू आज शेरू के लंड का दूध पियेगी”.
“लंड का दूध, वह कैसे?”
“जिस तरह से मैंने अपनी चूची का दूध शेरू को पिलाया है, वैसे ही तूभी इसके लंड को दूध में डुबो कर चाट, मज़ा आ जायेगा”
कमल बोली “आइडिया तो अच्छा है”.
कमल ने फ़िर मेरा अधखड़ा लंड हाथ में लेकर दूध के गिलास में डुबोया. फ़िर मेरा लौड़ा मुंह में लेकर चूस चूस कर दूध पीने लगी. इस मस्त चुसायी से मेरा लंड फ़िर खड़ा हो गया. रीना ने भी ऐसा ही किया और इन दोनों चुदैल औरतों ने मिलकर कुछ ही देर में मेरा लंड पूरा ९ इंच का तन्नाकर खड़ा कर दिया
“अब मेरा लंड पूरी तरह मस्त हो गया है, बोलो कौन चुदायेगा” मैंने दोनों चुदासी रन्डियों से पूछा.
कमल मामी जो कब से मुझे उसकी सहेली रीना की गांड मारते हुए देख रही थी, बोली “अब मेरा चांस है, रीना की तुम चोद चुके हो, मेरी चूत बुरी तरह से खुजला रही है, इसकी आग बुझा दो”.
रीना बोली “कमल, लेकिन शेरु ने तो मेरी गांड मारी है चूत तो अभी भी लंड की प्यासी है”
मैने अपना लौड़ा हाथ में लेकर प्यारसे मुठियाते हुए कहा “देखो कमल मामी, मैं इसी शर्त पर तुम्हारी चोदूंगा कि पहले तुम्हे मुझे अपनी गांड का मज़ा चखाना होगा, बोलो हो तैयार, वरना मैं रीना से बहुत खुश हूं कि इसने मेरा लौड़ा अपनी गांड में लिया, और खूब मज़ा दिया, उसकी चूत मैं एक बार फिर चोदूंगा”
रीना ने कमला के भारी भरकम नितंबों को थपथपाते हुए कहा “शेरु ठीक ही तो कह रहा है, बेचारे का दिल रख लो, थोड़ा सा दर्द बरदाश्त कर लो, उसका लंड तुम्हारी गांड का प्यासा है” रीना मेरे लंड को पकड़ कर हिलाने लगी.
कमल झल्लाई “तुम दोनों मेरी गांड के पीछे पड़े हो, अगर ऐसी ही बात है तो मैं अपने शेरु के लिये सब कुछ करने के लिये तैय्यार हूं, अब चाहे गांड ही फट जाये, मैं जरूर गांड चुदवाऊंगी, लेकिन मेरी एक शर्त है कि पहले शेरू मेरी गांड को प्यार करके मस्त करेगा, फिर अपना मूसल जैसा मोटा लंड मेरी टाइट गांड में पेलेगा”
अपनी सगी मामी की गांड उसीकी सहेली के सामने मारने मिलेगी इस खुशी में मैं पागल हो उठा. मुझे चोदने के लिये गांड को तैयार करना खूब अच्छी तरह से आता था.
रीना ने प्यार से अपनी सहेली से कहा “कमल तू फ़िकर मत कर, शेरु बहुत प्यार से गांड को लंड खाने के लिये तैयार करता है. तुम्हारी गांड खुद लंड मांगने लगेगी. मैं भी तुम्हारी मदद करूंगी, अब तू पेट के बल बिस्तर पर लेट जा, मैं और शेरू तेरी गांड को प्यार करेंगे.”
कमल रीना का कहा मानकर बिस्तर पर लेट गयी. उसकी गोरी मस्त गांड हवा में ऊपर उठी थी. मैं उस प्यारी गांड को देखकर मचल उठा. मामी की गांड रीना की गांड से भी बड़ी थी. मक्खन जैसी चिकनी और सफ़ेद गोरी गांड में गुलाबी भूरे रंग का सकरा गुदाद्वार था. मामी की गांड में मैंने चोदते समय कई बार उंगली की थी इसलिये मुझे पता था कि वह कितनी टाइट है.
रीना बोली “कमल, शेरू आज तुम्हे घायल करके छोड़ेगा, लेकिन तुम्हें इसके लंड से चुदा कर मज़ा भी आयेगा, बहुत प्यार से गांड चोदता है, तुम तो देख ही चुकी हो”.
रीना और मैं दोनो मामी के चूतड़ों से खेलने लगे. एक नयी गांड मिलने के जोश में मेरा लंड मस्त तन्ना कर खड़ा हो गया था. रीना ने कमल की गांड फ़ैलायी और मुझे उसका चुम्मा लेनेको कहा. मैंने रीना की गांड बहुत बार चूमी और चाटी थी. इसलिये वैसेही मामी की गांड का छेद चूसने और चाटने लगा. कमल आनंद और वासना से चिल्ला रही थी.
इतना छोटा और टाइट छेद था कि मेरा मोटा ताजा लंड उसमे कैसे जायेगा यह मैं सोचने लगा. पर फ़िर याद आया कि रीना की भी गांड पहले ऐसे ही टाइट थी और मैंने उसे तेल, घी और क्रीम लगा कर काफ़ी चोदा था. कई बार तो मैं चाट चाट कर अपनी लार से ही उसे चिकना कर के मारता था.
कमल अब चुदासी से सिसक रही थी “हाय, मर गयी, बहुत मज़ा आ रहा है, मेरी गांड मस्त हो गयी है, अब राजा चोदो इसको, अपना मूसल मेरी गांड में डाल कर फाड दो साली को, मैं तैयार हूं, गांड फड़वाने के लिये.”
रीना मेरे लंड से खेलती हुई बोली “शेरु सचमुच बेचारी की गांड पूरी तरह मस्त हो गयी है, अब इसकी चोद दो, बोलो कमल रानी, शेरु का लंड कैसे खाओगी अपनी गांड में, तेल लगवा कर, क्रीम लगवा कर या सूखा ही लोगी”
रीना ने कमल की गांड अपने हाथों से चौड़ी की. कमल चिल्ला उठी “हाय रानी सूखा लंड पिलवा कर क्या मेरी गांड फड़वा डालोगी? तू जा ड्रेसिंग टेबल से क्रीम उठा ला और मेरी गांड और शेरु के लंड को खूब चिकना कर दे ताकि इसका मोटा हथियार मेरी गांड में आसानी से जा सके”.
रीना जल्दी से ड्रेसिंग टेबल से क्रीम ले आयी. उसकी भी चूत अब मस्ती से टपक रही थी और चूचियों के निपल सूज कर खड़े हो गये थे. अपनी सहेली की गांड का शीलभंग देखने को वह आतुर थी.
मैने मामी से पूछा “किस पोजीशन में चुदवाओगी अपनी गांड मेरी रानी मामीजी”
कमल सहम कर बोली “मैं तो पहली बार गांड मरवा रही हूं, जिस आसन में आसानी से लंड गांड में चला जाये उसी में चोदो, मुझे तो बहुत डर लग रहा है, आज तुम्हारा लंड बहुत खतरनाक लग रहा है, मेरी गांड फाड़ कर ही छोडेगा साला”
रीना उसे प्यार से चूमती हुई बोली “रानी तू ऐसे ही पड़ी रह, मैं तेरे चूतड़ फैला दूंगी फिर यह मोटा लंड तेरी गांड मे आसानी से चला जायेगा”
रीना ने मेरे लंड को अपने हाथ से खूब क्रीम लगायी और मामी की गांड मारने के लालचसे मेरा लंड उछलने लगा. रीना ने अपनी उंगली पर क्रीम लेकर उसे कमल की गांड में घुसेड़ दिया.
कमल चीख उठी “हाय रीना मर गयी, धीरे से रानी”
मेरा लंड लोहे जैसा कड़क था और सारी नसें सूजकर फ़ूल गयी थीं. लाल सुपाड़ा एक बड़े टमाटर जैसा लग रहा था. मेरा लंड ऊपर की तरफ़ बहुत मोटा है और इसलिये औरतों को उसे अंदर लेने में पहली बार बहुत दर्द होता है. मामी मेरे इस लंड को अपने इतने से गुदा में कैसे लेगी यह मैं सोच रहा था.
पहली बार जब रीना की गांड मैंने मारी थी तो वह दर्द से रो दी थी. बाद में आदत होने पर उसे मजा आने लगा और फ़िर उसे मुझसे गांड मराने की लत ही पड़ गयी थी. रीना ने जब मेरा लंड पकड़ कर कमल के खिंचे हुए गुदापर रखा तो मामी भी दर्द की आशंकासे घबरा गयी. अपनी गांड खुद की अपने हाथोंसे और फ़ैलाते हुए बोली “राजा, धीरे से डालना अपना मूसल, बहुत नाजुक है मेरी गांड, कहीं फट ना जाये”
मैं बोला “घबराओ मत रानी हम तुम्हारे दुश्मन नहीं हैं, बस शुरू मे थोड़ा दर्द होगा बाद में जन्नत का मज़ा आयेगा”
रीना बोली “हां कमल तू एक बार गांड मरवा ले फिर देख इसमें कितना मज़ा आता है, तू रोज़ शेरू से गांड मरवायेगी, बहुत प्यार से चोदता है गांड, कसम से मज़ा आ जाता है, बस ऐसे ही गांड फैलाये रह, चल शेरु अब अपनी मामी की गांड के छेद पर लंड का एक धीरे से धक्का मार, लंड और गांड दोनो चिकने हैं आसानी से लंड अन्दर चला जायेगा”
रीना ने मेरा लंड पकड़ कर कमल के छेद पर जमाया और मैंने धीरे से एक धक्का मारा. लंड साला फ़िसलकर उसकी चूत में चला गया. मैंने लंड बुरसे निकाल कर फ़िर जमाकर ठीक से पेला और वह पुक्क की आवाज से कमल की गांड में समा गया.
कमल दर्द से चिल्लायी “हाय मर गयी, फट गयी मेरी गांड, निकाल लो राजा, मर जाऊंगी, मैं नहीं गांड चुदवा पाऊंगी”
रीना अभी भी मेरे लंड को पकड़े हुए थी “डर मत मेरी जान, बस थोड़ा सा दर्द बरदाश्त कर ले, चल शेरु अब और पेल अपना लौड़ा”
मैं बोला “रीना, सचमुच मामी की गांड बहुत टाइट है मेरा लंड भी दर्द कर रहा है, मैं लंड निकाल लेता हूं, तू और क्रीम लगा दे इस पर”.
रीना ने अब मुझे डांट कर कहा “तू फिकर मत कर बस और थोड़ा पेल, बाद में क्रीम लगवाना”
उसने खुदही जबरदस्ती मेरा लंड गांड में और घुसेड़ दिया. मैंने भी दो धक्के लगाये तो आधा लंड मामी की गांड में घुस गया. उसकी गांड सच में बहुत टाइट थी, उसकी गांड की पेशियां मेरे लंड को कस कर पकड़े हुए थीं. कमल कराह कर मुझे अपना लंड निकाल लेने को कह रही थी और रीना मुझे कमल की गांड फ़ाड़ देने को उकसा रही थी. मैंने आखिर अपना लंड बाहर निकाल लिया. वह कमल की गांड की गरमी से सूज गया था और सारी क्रीम भी सूख गयी थी.
रीना बोली “क्या हुआ राजा निकाल क्यों लिया, चोदो ना अपनी मामी की गांड, पेल दो पूरा लंड एक धक्के में”.
कमल दर्द से कराहती हुई बोली “हाय रीना तू तो मेरी गांड फड़वा कर ही मानेगी आज, आधा लंड खाने से ही मेरी गांड फट गयी, अब मैं और नहीं चुदवा सकती, गांड के बदले चूत चोद लो, खूब चाहो तो उसे फाड़ ही डालो” कमल मेरे लंड को अब डरी आंखों से देख रही थी पर मुझे तो मामी की टाइट गांड का अनुभव मदहोश कर रहा था.
मैं बोला “रानी आज तो मैं गांड ही मारूंगा, चूत तो बाद मे चोद लूंगा, आज तेरी मस्त गांड का ही मलीदा निकालूंगा, चल रीना लंड पर कुछ और क्रीम लगा दे फिर मैं इसकी गांड में लंड पेलूं”
रीना ने अपनी हथेलियों से मेरे पूरे लंड पर और खास कर फ़ूले हुए सुपाड़े पर खूब क्रीम लगाई. मैंने फ़िर से सुपाड़ा कमल मामी के गुदाद्वार पर रख कर जोर से घुसेड़ा. इस बार सट से आधा लंड उसकी गांड में घुस गया. मैं आधे लंड से ही उसकी गांड मारने लगा.
रीना कमल के चूतड़ों को फ़ैलाती हुई बड़ी उत्सुकता से यह गांड चुदाई देख रही थी. वह बोली “पेल दो राजा पूरा, अब पूरा लंड डाल कर चोदो इस साली की गांड, साली गांडू जब मेरी चुद रही थी तो बहुत मज़ा ले रही थी”
कमल अब दर्द से बिलबिला रही थी “हाय राम मर गयी, फट गयी मेरी गांड, बस करो, बहुत दुखता है” मैंने उसके रोने की परवाह न करते हुए अपना पूरा लंड जड़ तक उसके चूतड़ों के बीच उतार दिया. टाइट छेद में क्रीम लगी होने के बावजूद बड़ी मुश्किल से लंड अन्दर गया. मेरी गोटियां अब मामी के मुलायम नितंबों से टकरा रही थीं.
कमल फ़िर रोई “हाय शेर बेटे, तुमने आज मार डाला, फट गयी है मेरी गांड, देखो क्या खून तो नहीं निकला, हाय बहुत दर्द हो रहा है, अब बस करो मेरी जान”
रीना उसके चूतड़ों को सहलाती हुई बोली “अब तो रानी तूने पूरा लौड़ा खा लिया है, घबरा मत, बस थोड़ा बरदाश्त करले, फिर तुझे खूब मज़ा आयेगा”.
मेरा पूरा ९ इंच लंबा लंड मामी की टाइट गांड में था. मैंने चोदते हुए उसे धाड़स बंधाया. “मामी तुम डरो मत, पूरा लंड तो आसानी से गांड मे चला गया है, बस अब प्यार से चुदवा लो, रीना अब तू इसे बता कि गांड मराने का मज़ा कैसे लिया जाता है”
कमल ने अपने हाथ से अपनी गांड के छेद को टटोला कि मेरा लंड कितना अंदर गया है और जब देखा कि जड़ तक वह अंदर गड़ा हुआ है तो वह कुछ शांत हुई. रीना को तो अपनी सहेली की गांड चुदती देख बड़ा मजा आ रहा था
रीना बोली “हां मेरी रानी जिस तरह से चूत चुदाने की कई स्टाइल हैं वैसे ही गांड चुदाने की भी बहुत स्टाइलें हैं जिससे भरपूर मज़ा लिया जा सकता है”
कमल बोली “यार रीना, तुम्हें मस्ती की पड़ी है, मेरी गांड फटी जा रही है, शेर का लौड़ा खा कर, अब निकाल ले मेरे राजा बस कर”
मैं बोला “मामी तुम बिना बात के डर रही हो चूत और गांड लंड के हिसाब से फैल जाती हैं, अब जैसे रीना कह रही है वैसे कर के गांड चुदाई का मज़ा लो”
रीना ने भी उसे समझाया “कमला रानी, अब पूरा लंड खा चुकी हो अब प्यार से चुदवा लो, ऐसा करो कि जब शेरु लंड अन्दर पेले तब गांड को ढीला छोड़ दो और जब लंड बाहर निकाले तो गांड को टाइट कर लो अपने मस्ताने चूतड़ खूब सिकोड लो, सच बहुत मज़ा आयेगा तुझे, तेरी गांड चुदते देख मेरा भी मन चुदने को हो रहा है, शेरू का लौड़ा तो तेरी गांड में है, बोल शेरु मुझे कैसे चोदेगा”
मैने चोदते चोदते ही जवाब दिया “रीना मेरी जान आज तुमने मामी को गांड मराने के लिये राज़ी किया है, आज जो भी कहोगी करूंगा”
रीना बोली “ठीक है मैं तेरे सामने खडी हो जाती हूं तू मेरी चूत को चूस, चाट चाट कर उसकी मस्ती निकाल दे”
मैं इस डबल मजे के लिये तैयार था. रीना मेरे सामने खड़ी हो गयी और अपनी चूत अपनी उंगलियों से खोल कर उसे मेरे मुंह के पास ले आयी. उसकी खुली गुलाबी चूत का मैंने चुम्मा लिया और चूसने लगा.
रीना मस्ती से झूम उठी. “बहुत अच्छे शेरू, मेरी चूत को चूस लो, उसका पानी पी लो, बहुत प्यासी है, अपनी जबान से उसको चोदो, दांतों से काटो मेरे राजा, धीरे धीरे कमल की गांड में अपना लंड पेलना शुरू करो”
मैंने धीरे धीरे अपना पूरा लंड कमल की गांड से बाहर निकाला और फ़िर पेल दिया. कमल चिल्लाई “हाय राजा धीरे धीरे करो, दर्द हो रहा है, प्यार से चोदो”
रीना अब खुद ही अपनी बड़ी बड़ी चूचियां अपने ही हाथों से दबा रही थी. “कमल तू अब जैसे मैंने कहा वैसे गांड चुदवा, तुझे बहुत मज़ा आयेगा”
अब मैं आराम से अपना मोटा लंड मामी की गांड में अंदर बाहर कर रहा था. उसकी मक्खन जैसी कोमल मुलायम गांड में मेरा लंड बड़े प्यार से चल रहा था. साथ साथ मैं रीना की रसीली चूत को अपनी जीभ से चोद रहा था. कमल ने भी रोना बंद कर दिया था और अपना गुदा ढीला कर के खोल के वह भी खुशी से मरवा रही थी. “हां, मेरी रानी ऐसे ही गांड फैला कर मज़ा लो, बोलो अब कैसा लग रहा है” मैंने कमल से पूछा.
कमल बोली “अब दर्द कुछ कम हो रहा है, लेकिन धीरे धीरे धक्का मारो मेरे राजा, पहली बार चुदवा रही हूं, फिर तुम्हारा लौड़ा भी तो घोड़े के लंड की तरह मोटा है, चूत तक तो फट जाती है, फिर गांड की क्या बात, छोटा सा छेद है मेरी गांड का”
रीना बोली “मेरी जान आज गांड चुदाने के बाद तू अब हमेशा शेरू का लंड गांड मे लेने को तैयार रहेगी. शेरू मेरी चूत को तू चबा डाल, खूब दांत से काट कर चोद”
मैने रीना की बुर के पपोटे चबाने शुरू कर दिये. रीना मस्ती में चहकने लगी. कमल अब रीना के सिखाये अनुसार अपनी गांड सिकोड़ और फ़ैला रही थी. मेरे लंड को इससे बहुत सुख मिल रहा था. मैंने जोर जोर से उसकी गांड मारना चालू कर दिया “मामी अब कैसा लग रहा है, दर्द तो नहीं हो रहा है”
“अब दर्द कम हो गया है, लेकिन धीरे धीरे ही धक्के मारो, पहली बार चुदवा रही हूं गांड, रीना तो गांडू है, गांड मराने में एक्सपर्ट है, वह तो तुम्हारा पूरा लंड गपा गप खा लेती है आसानी से”
रीना नकली गुस्से से मेरे मुंह को चोदते हुए बोली “साली पूरा लौड़ा गपा गप खा रही है और मुझे बदनाम करती है, खूब चोद शेरू तू इसकी गांड को अपने मूसल से फाड डाल.”
रीन अब झड़ने को थी. उसकी चूत में से रस उबल उबल कर बह रहा था. मेरा लंड अब सटा सट मामी की चिकनी गांड में अन्दर बाहर हो रहा था और वह भी बड़े आनंद से गांड मरा रही थी. “हां राजा अब अच्छा लग रहा है, सच गांड मराने मे तो मज़ा आता है, खूब चोद लो मेरी जान”
रीना अब मस्ती में डूबकर बोली “हाय राजा मेरी चूत का पानी निकलनेवाला है, खूब चूस लो, पूरा रस पी लो, जबान से खूब चोदो, अपने हाथों से फैला कर, हाय मैं गई, गई, ऊऊओः, आआअः, सीईईई, खाले मेरी चूत को, साले, गांडू, मादरचोद, तेरी गांड को अपनी चूचियों से चोदूं” ऐसी गंदी बातें करती हुई रीना झड़ गयी. मैंने उसकी चूत के पपोटे खोलकर सारा रस पी लिया.
रीना अब हांफ़ते हुए कमला के बाजू में लेटी थी. मैं हचक हचक कर मामी की गांड मार रहा था. वह अब अपनी गांड की पेशियों से कस के मेरा लंड पकड़े हुए थी. “आः, आः, आः, अच्छा लग रहा है, मज़ा आ रहा है, मेरी चूत भी पानी छोड़ रही है, प्यारे बड़े मस्त चुदक्कड़ हो, गांड चोदने में माहिर हो, बहुत प्यार से चोद रहे हो, रीना ने तुम्हे एक्सपर्ट बना दिया है”
रीना बोली “कमल रानी तेरी गांड की आग तो शेरू का लंड बुझा देगा, चूत की आग तू कहे तो मैं चूस कर बुझा दूं”
“यह कैसे होगा मेरी जान” कमल ने मराते मराते पूछा.
रीना ने कहा “तू ऐसा कर, आकर अपनी चूत मेरे मुंह पर दे दे, मैं नीचे से उसे चूसकर खलास कर दूंगी, पीछेसे शेर तेरी गांड चोदता रहेगा”
मैं भी बोला “हां मेरी जान तेरा आइडिया अच्छा है, कमल की चूत की प्यास भी बुझ जायेगी, मेरा लंड भी अब झड़नेवाला है”.
मैंने कुछ देर के लिये अपना लंड कमल की गांड से निकाल लिया. वह फुक्क की मस्त आवाज से निकल आया. मेरा सुपाड़ा अब बड़े लाल टमाटर जैसा सूजा था.
कमल बोली “रीना तेरे पास भी चुदाई के खूब आइडिया रहते हैं” वह रीना के मुंह पर बैठ गयी और चूत उसके होंठों पर रगड़ने लगी. रीना कमल की रिसती चूत चाटने लगी. दो औरतों की यह कामक्रीड़ा देख मुझे बड़ा मजा आया. कमल की गांड खुली थी और छेद बड़ा हो गया था. वह उचक उचक कर अपनी चूत अपनी सहेली के मुंह पर रगड़ रही थी.
रीना ने उसके मोटे गोल गोल चूतड़ अपने हाथों मे पकड़े और खींच कर अलग किये. “शेरू आजा, पेल दे अपना मूसल अपनी मामी की कसी गांड में, फाड दे इसकी गांड, सूखा लंड ही खोंस दे इसकी गांड मे”
“नहीं, शेरू तुम्हे मेरी कसम, क्रीम लगा कर ही डालना, मर जाऊंगी” मामी चिल्लाई.
मैने उसकी बात मान ली और लंड पर खूब क्रीम लगाई. फ़िर सुपाड़े को गांड के छेद पर रख कर ऐसा जोर से घुसेड़ा कि एक ही बार में पूरा लंड कच्च से उसके चूतड़ों के बीच समा गया.
मामी चीख उठी “हाय , मर गयी राजा”. मैंने अब उसे मस्त हचक हचक कर गांड चोदना शुरू किया. रीना नीचे से उसकी बुर चूस रही थी. इतना मजा आया जैसे कि हम सब स्वर्ग में हों. मैंने आधा घंटे तक मामी की मारी और फ़िर झड़ गया. उधर कमल मामी भी रीना के मुंह में झड़ गयी और उसे अपनी बुर का पानी पिलाया.
अब तो कमल मामी रोज मुझसे गांड मरवाती है.
— समाप्त —

यह कहानी भी पड़े  पिंकी और कुसुम

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


Nauvi kaksha ki antarvasnaभाजी के चोदा बहन के सामनेतै की चुदाई देसी बीस कॉममामी ने लण्ड की सील तोड़ीबरसात me moshi ki cudaai sexy storyसेक्सी माल की कहानीandhre me ma ki chudai saheli ne karaibudhe ka land ma ki bacchedani me sexgaon me bahuon ki samuhik chudaiआंटी को मूली डालते देखापहला सेख्स अनुभवहिंदी सेक्से दीदी की मोठे मोठे गण्डmohit ne bhabhi ko dba ke choda hinde storihotal me choda vigora deke maa koरेलगाड़ी में चुदाई देखी कहानीडिलडो और माँ बेटी सेक्स कहानीaunty boli land dekh ke teri mom darati anter vasnaसेक्सी कोचिंग क्लास स्टोरीjaklingi xxxxमैंने उसकी पैंटी पहन लीBivi chudhi selsmen se storiब्लू फिल्म चुदाईxxx storis bahoshi maसेकस कयाहैbibi chudi thailand me storysavita chuddkad huiDear Behan ko choda kar sille thodi Hindi sex storyTRAN NXXX STORIkamvali sone ka natak sex hindi khaniyaएक भाई की वासनाबुर मेँ लंडचोद और तेज रंडी मादरचोद छिनालHmko SXs ke liyee ladki phone numberमूसल लड दीदी कूतियाma bate ki nahati hindi kahani xxxयात्रा में रिश्तों में हुई चुदाईदेहाती मुस्लिम अन्तर्वासनाहिंदी चुदाई स्टोरी आउचखूबसूरत आंटी ने मालिश करके चुदायालेबिस्यन की कहानियाँ होस्टल मेंशाली को रुला-2 के चुदाई की कहानीwww.hindi me sexse kok shastir.comsex xxx kai sari aunnty ke satha holi manai kahanima nal jabardaste sexkiraye pr makaan dene k chudaai ki kahaaniगुलाबी गांड़jimidar ki larki ki cudae ki khar mae sex stori hindiमो सी की चूतwww antarvasnasexstories com incest bahu ke mayke me chudai part 3किराये वाली भाभीयोँ की चुदायी कहानीयाँmom ke sath kheton me sexy story inhindi antarwasnaनँगी करके चोदते गुरुप मे कथाहिनदि सेशसि विडियो माशटरओर मेडमसांवली चूतbubs dbane me kisko mja aata hchoot me मक्खन डालनाफूफा जी ने मम्मी को छोड़ाभाभी की चुदाईबाबा हिंदी सेक्स स्टोरीcoot par land ragadkr codnatau ji ne meri seal todiसीता चुद गयी मुस्लिम लण्ड सेमम्मी ताऊ का काला लंड फोटोdo bahno ki chudai huiकहानीचुदाइjalim sxsporn koi dekh raha hai adla badle gadraya jawani antervasnaप्रसव के बाद सेकस की गयी कहानियामेरी बुर की कीमत है मोटा लन्डghaghara me chudai hindi storytayi ki gaand sexbaba.comपति ने मेरी चुत चार दोस्तों से चुदवा दी-3Mene apni Patni ko ger se cudwya land ko sehlane lagi sex storyManno devi ki chudaikathmandu me bur chudai ki hindi storySexxxxxx stroy hindi me only khaniरेल मे बेटे शे चुत मराईबीवी की चुदाई गैर मर्द से कराईSamdhi ke sath chudai Hindi kahania12 इंच लोडे से गांड का भोसड़ा बनवाया