दादाजी ने शील भंग किया

बात तब की है जब मेरे दादाजी की उम्र करीब ५० की थी, उनका ब्याह दादीजी से बहुत कम उम्र में हो गया था. दादीजी खुद 48 की thi. मेरे पिता 33 के थे और मेरी माताजी का तो बस बत्तीसवां लगा था. मेरी उम्र का मुझे याद नहीं, आप खुद अंदाजा लगा लो. वो मेरा पहला अनुभव था.
बैठक में बस मैं दादाजी और दादीजी थे. दादीजी घर का काम करने में व्यस्त थीं. दादाजी और मैं टी.वी. देख रहे थे. दादाजी ने थोड़ी पी रखी थी. उन्होंने मुझे अपने पास बुलाया और बगल में बिठा लिया.
मैं टी.वी. देखने में मशगूल थी और दादाजी का हाथ कब मेरी स्किर्ट के नीचे मेरी चड्डी तक गया पता नहीं चला. दादाजी ने चड्डी सरका कर धीरे धीरे मेरी बुर पर ऊँगली रगड़ने लगे. मैं गरम होने लगी थी. दादी का कहीं पता नहीं था.
मैंने दादाजी की तरफ देखा, दादाजी ने झट से मेरे लबों पर एक किस जड़ दिया. मैं भी उनका साथ देने लगी. दादाजी ने अपने जीभ से मेरी जीभ चाटने लगे. हलके हलके मेरे होंठों को चबाने लगे.
एक हाथ से उन्होंने अपने पैंट की जिप खोली, और मेरे हाथों को अपने चड्डी पर रख कर सहलाने का इशारा किया. उनका हथियार तो करीब ६-६.५” इंच लम्बा होगा. मैं उनके लंड को सहलाने लगी.
उनका दूसरा हाथ मेरी पीठ पर सरक रहा था. उनका हाथ सरकते सरकते मेरी गर्दन तक पहुंचा और फिर उन्होंने मेरा सर अपनी लंड की तरफ झुकाया, जो अब तक तन कर लोहे की तरह मजबूत और खड़ा हो चुका था. एक झटके से उन्होंने मेरे मुंह में अपना लिंग दे दिया. उनका लिंग मेरे अंदाज़ से कहीं बड़ा था. ७.५” इंच के लंड को मैं कंवारी कहाँ ले पाती. लेकिन उस झटके से उनका लिंग सीधे मेरे कंठ तक आ पहुंचा. दादाजी मेरा मुंह आगे पीछे कर के मुख मैथुन का मजा ले रहे थे. दोनों हाथों से मेरे सर को आगे पीछे कर के करीब ३-४ मिनट तक मजा लिया. इसके बाद उन्होंने मुझे आजाद किया. मैं खड़ी हुई की एक चपत मेरे गांड पर पड़ी. मैं तिरछी क्या हुई, एक झटके में मेरी पैंटी खींच दी. फिर मुझे पैंटी के बंधन से आजाद कर के मुझे अपनी गोद में बैठने का इशारा किया. मुझे टांगे फैला कर अपने लंड पर बैठा लिया. उनका लंड सीधे मेरी बुर को चीरता हुआ, अन्दर चला गया. मैं चिल्लाने वाली थी लेकिन उन्होंने एक हाथ से मेरा मुंह बंद कर रखा था. फिर मेरी कमर को उठा उठा कर मुझे चोदना शुरू कर दिया. थोडा दर्द हो रहा था, लेकिन फिर मजा आने लगा. दादाजी ने भी मेरी चूचियां जो अभी बस थोड़ी ही बड़ी थी, उसे दबाने लगे, थोड़ी देर में जो मसलने लगे, उस आनंद की क्या बात करून, मैं बस चरम पर पहुँचने वाली थी, मैं आंखे बंद कर के झड़ने वाली ही थी की, दरवाजे की खटपट से मैं और दादाजी दोनों रुक गए. दादीजी मुख्य द्वार बंद कर के इस तरफ आ रही थी. अब तो मेरी हालत ख़राब हो गयी. इस अवस्था में पकडे जाने का कभी सोचा नहीं था. जब चुदाई शुरू की थी, तब तो सोचा भी नहीं था. लेकिन जो हुआ वो कभी सोचा नहीं था.
“आओ जानेमन, तुम भी अपने पोती के साथ शामिल हो जाओ.”
“बड़े कमीने निकले तुम तो. शर्म हया को क्या हो गया? कभी सोचा भी की घर की इज्जत का क्या होगा?”
“इतना गुस्सा क्यों हो रही हो? अपनी पोती ही तो है. थोड़ी सी चुदाई कर ली तो क्या हो गया?”
“इतना करने की जल्दी मची थी तो कमसे कम दरवाजा तो लगा लेते.”
यह सुनते ही मैं खुश हो गयी. दादीजी की रजामंदी थी ही. दादीजी ने कहा, “तुम्हे कुछ ख्याल नहीं की बच्चों को सेक्स ज्ञान कैसे देते हैं? मैं सिखाती हूँ.”
दादीजी मुझे दादाजी की गोद से उतरा. फिर मेरे सारे कपडे उतर दिए. मैंने पैंटी तो वैसे ही उतार दी थी, ब्रा नहीं उतार थी. उधर दादाजी दादी के कपडे उतार रहे थे. उतारते उतारते वो दादीजी को यहाँ वहां चूम रहे थे. दादीजी मेरे चूचियां हलके-हलके मसलनी शुरू की. मुझे पलंग पर लिटा कर एक हाथ से एक चूची मसली और दूसरी चूची चूसनी शुरू कर दी. दुसरे हाथ की दो उँगलियों से मेरे चूत को चोदना शुरू कर दिया. तब तक दादाजी भी नंगे हो कर दादीजी चूत चाटने लगे थे.
फिर दादीजी ने मुझे उनके साथ वैसे ही करने के लिए कहा. अब मैं उनका स्तनपान कर रही थी, और दादीजी दादाजी के लंड का स्वाद ले रही थी. थोड़ी देर के बाद, दादीजी कुतिया स्थिति में आ गयी. मुझे सामने बिठा कर मेरे बुर को चूसने लगी, और दादाजी ने उनके पीछे से अपना वार चालू किया. करीब १५ मिनट तक चोदने के बाद दादाजी ने कहा,” जानेमन अब मैं झड़ने वाला हूँ, तैयार?” इस पर दादीजी अपनी चूत से लंड निकलवा दिया और कहा, “आज तो इसकी बारी है, हर बार तो मैं चुदती हूँ ही, इस लड़की को भी इसके यौवन का एहसास दिला दो.”
मैं ख़ुशी ख़ुशी, अपने बुर में दादाजी का लंड लेने को तैयार थी, मैं और दादाजी एक ही साथ झड गए. दादाजी का पूरा पानी मेरे बुर में ही बह गया. मेरे बुर से खून और वीर्य दोनों बहने लगे. उसे दादीजी चाट चाट कर साफ़ करने लगी, मैं उनकी बुर चाटने लगी, तब उनकी बुर ने भी पानी छोड़ दिया जो मेरे मुंह में आ गया. उनका पानी बड़ा ही नमकीन था. उनके बलरहित चूत की क्या बात थी. सब तृप्त हो गए थे.

यह कहानी भी पड़े  तेरे भैया तो चूसने ही नहीं देते !

Pages: 1 2

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


www.antrawashna sister ko choda buri trh jabrdastiRajsharma ki kamuk Bhanji ko chodne ki kahaniya Hindi mराजशर्मा परिवार रिलेशन पर सेक्स स्टोरी कामुकताDidi ki kachchi jawaani ko lode ki jaroorat sex story HindiBhan ne bhai gad me pelo xxxचूतड़ों की दरारrajai me chhoti ladki se chudai ki kahaniyaराज शर्मा सेक्स स्तोरियेसRistome chudayi ki lambi kayaniyaहिनदि सेशसि विडियो माशटरओर मेडममम्मी की ब्लैक पंतय हिंदी सेक्स स्टोरीbhai ne bhahn ko bhatharum me codh.comGaon me chudai sexbaba.compatni ki threesom ki icha sex storyLadki ladke ke choot mein lund ko Condom Laga ki chudai Karti video dot-com sexyमैने ओर मामा कै लङके ने मेरी माँ कि गाँङ फाङी कि कहानीआँटी ने बस में मेजे से चुदाईचूत में लंडbua se sexchat wali storyसफर मे चुदाइ stories Antarvasna.com मम्मी की भोसड़ीTruck me choda me apni bhabi ko sex storyलङकियो की चुदाईland ka verya nekalne vali sex khaniChachi ko bhuse me choda khet hindi chudai kahanihendi kahani Maushi ke sath thand me rajai me anjane me xxxantarvasna bua Hindiमेरे नंगे लंड की मालिश कहानीमासूम बहु Incest(sasur-bahu) - Page 2 - Raj Sharma Storiesjaglo.ki.chudae.do.ghnte.videojbrdsti sex stories bhu ssur moja part 4 hindi meपूछि सेक्स videosex story ताई hindimut peekar chudai antervasna storyबहन चॅदChoti behan nimboo chuchi Bur Virya landविधवा दीदी की प्यास बुझाओचुदाइ किकहानिनागि नीद न बहें ोक चूड़ा हिंदी सेक्सी स्टोरीchudvaya sfr meगुदा का चैकअप चुदाई की कहानीDesibees माँ चाची और दादी को पार्क में चोदाnadan ladke Ko viagra khila k chut ki pyas bujaichudai इजाजत दी पति नेHindi.sexi.kahaani.maa.bhu.papa.beta.shathBhabhi ko ghar ke chobare me chaudaजुली कि चुदाई कहानीBadsurat aurat Hindi sex storyMeena Anty ki chut chudai khani कुतिया चोदनाwww.मावशीच्या जबरदस्ती sax कथा .comईशका मालकीन चुदाई कहानीantarvasna new hindi sex storisविधवा कामबाली की चुदाई विडियोrassi se bandh kar sex storyसेक्स कहानी बुआ सिस्टर मामिantarvasna Hindi sex story gundo ne chodaकंट्रोल नहीं कर पाई छोड़ने के लिएहोंटो पर लन्डBhai bhinsex storyखूबसूरत आंटी ने मालिश करके चुदायामाँ की घर में चुदाईPuja.k.cudae.k.kahanephart kee kumaree lrkee ka chud ka panee xxxmangalsutra land me lapet di bhabhi chudai videoBaarish mein antarvasna ki stories in hindiरंडी सौतेली विधवा माँ को चोदकर उसका पति बनाhttps://buyprednisone.ru/antarvasna-sex-stories-pyara-sa-sapna/3/Antarvasna dono padosan anty ki galiyaचुदहजारों sexhindiSome ke bahane bhen ki chudai storymassi ko chouda xxx मंजिलाबेबस दीदी को छोड़ा सेक्स स्टोरीजसमधी से चुदवाया